संस्थाओं के प्रकार ऑस्ट्रेलिया में

ऑस्‍ट्रेलिया में उत्‍तर-माध्‍यमिक शिक्षा निम्न में विभाजित है:

उच्‍च शिक्षा (यानी विश्‍वविद्यालय, ग्रेजुएट बिजनेस स्‍कूल, धार्मिक कॉलेज आदि)

  • 45प्रमुख संस्‍थान (अधिकांश सार्वजनिक) और 85 अन्‍य संस्‍थान

ऑस्ट्रेलिया के विश्वविद्यालय
आपको चुने गए क्षेत्र की बेहतर समझ के साथ अकादमिक कौशल प्रदान करेगा, जिन्‍हें अन्‍य क्षेत्रों में भी लागू किया जा सकते हैं। आप केवल स्‍वास्‍थ्‍य, विज्ञान, इंजीनियरिंग या कला के बारे में ही नहीं सीखेंगे।
आप यह भी सीखेंगे कि कैसे रचनात्‍मक और स्वतंत्र तरीके से सोचते हैं।

ऑस्‍ट्रेलियाई विश्‍वविद्यालय एवं उच्‍च शिक्षण संस्‍थान स्‍नातक डिग्री और विविध क्षेत्रों में उच्‍च योग्‍यता हासिल करने वाले कार्यक्रमों की पेशकश करते हैं। ऑस्‍ट्रेलियाई विश्‍वविद्यालय वास्‍तुशिल्‍प से लेकर जंतु विज्ञान तक के कार्यक्रमों की पेशकश करते हैं।

ऑस्‍ट्रेलिया में प्रदान की जाने वाली सबसे सामान्‍य योग्‍यता स्‍नातक डिग्री है। परास्‍नातक डिग्री और डॉक्‍टोरल डिग्री के जरिये विशेष शोध प्रशिक्षण और पेशेवर विकास की भी पेशकश की जाती है।

स्‍नातक सर्टिफिकेट और स्‍नातक डिप्‍लोमा भी उपलब्‍ध हैं। डिप्‍लोमा का चलन कम होता जा रहा है, हालांकि एसोसिएट डिग्री पढ़ने की इच्‍छा रखने वाले पेशेवरों के लिए अल्‍प-चक्र डिग्री कार्यक्रम की पेशकश की जाती है।

व्‍यावसायिक शिक्षा और प्रशिक्षण

  • 3,000 संस्‍थान (1000 सरकारी तकनीकी एवं अग्रगामी शिक्षा [TAFE])
  • 1.5M छात्र (TAFE में 75%)
  • राज्‍य सहायता प्राप्‍त 60%, संघीय सहायता प्राप्‍त 25%)

विश्‍वविद्यालय में प्रवेश मुख्‍य रूप से राज्‍य-दर-राज्‍य स्‍कूल समाप्ति मूल्‍यांकन प्रणाली (परीक्षा/असाइनमेंट) पर आधारित होगी, जिनसे राष्‍ट्र-व्‍यापी तृतीयक शिक्षा रैंकिंग (TER) के लिए रास्‍ता खुलेगा।

प्रत्‍येक राज्‍य में व्‍यावसायिक शिक्षा और प्रशिक्षण (VET) तथा तकनीकी एवं अग्रगामी शिक्षा (TAFE) प्रणाली है।
VET लोगों को उन कैरियर के लिए तैयार किया जाता है जिनमें विश्‍वविद्यालय डिग्री की आवश्‍यकता होती है।
प्रत्‍येक राज्‍य अपनी प्रणाली का प्रबंधन करता है और अपने प्रयासों के समन्‍वय के लिए राष्‍ट्रीय स्‍तर को पूरा करता है। VET सभी राज्‍यों में स्‍थानांतरणीय है। एक राज्‍य में की गई पढ़ाई दूसरे राज्‍य में समान दर्जा प्राप्‍त करती है। आमतौर पर VET/TAFE पाठ्यक्रम की अवधि दो वर्ष की होती है।

राष्‍ट्रीय सरकार सभी राज्‍यों में विश्‍वविद्यालयों को फंड मुहैया कराती है। प्रत्‍येक अपने प्रशासन के लिए स्‍वतंत्र है। वे अपने पाठ्यक्रम और पाठ्यक्रम सामग्री का निर्धारण करते हैं। पाठ्यक्रम के संचालन के लिए इसे व्‍यावसायिक निकाय से अनुमोदन प्राप्त होना चाहिए। आमतौर पर विश्‍वविद्यालय पाठ्यक्रम की अवधि तीन या चार वर्ष की होती है।

कार्यस्‍थल पर, नियोक्‍ता रोजगार के लिए प्रशिक्षण के मानक तय करने में सहमत पाठ्यक्रमों और निष्‍कर्षों का उपयोग करते हैं। उद्योग और व्‍यवसाय के कई हिस्‍से अपने कर्मचारियों के लिए कार्यस्‍थल पर ही प्रशिक्षण मुहैया कराते हैं। इस प्रशिक्षण के कुछ हिस्सों को योग्यता में गिना जा सकता है।